ऐ राही तुझे आगे बढ़ना है ....

>> 26 January 2009

ऐ राही तुझे आगे बढ़ना है
लाख आएँगी मुश्किलें
तेरे इस सफर में

और अकेलेपन के लम्हे
डरायेंगे तुझे इस सफर में

ऐ राही तुझे नही डरना है
सिर्फ़ आगे बढ़ना है

आगे बढ़कर भी अगर
ना मिले मंजिलों के रास्ते

मत समझ लेना भूल कर
ये आखिरी हैं रास्ते
ऐ राही तुझे आगे बढ़ना है ......

हमसफ़र बनकर आ भी जाए
अगर कोई इस सफर में

मत समझ लेना भूल कर
वो साथ निभाएगा तेरा हरा सफर में
ऐ राही तुझे आगे बढ़ना है .....

मंजिलें तो बनी हैं पाने के लिए
उन्हें तो एक दिन मिलना ही है
पर ऐ राही तुझे आगे बढ़ना है

16 comments:

Manish Kumar 26 January 2009 at 17:23  

badhte rahein...likhte rahein

Pratik Maheshwari 26 January 2009 at 19:27  

सरल और सुंदर कविता...
शुभकामनाएं - कविता और गणतंत्र दिवस दोनों के लिए...
mere ब्लॉग पर भी पधारें...

hem pandey 26 January 2009 at 19:38  

अन्तिम पंक्तियों में कविता का सार और जीवन दर्शन आ गया है. साधुवाद.

shekhar-tulika 26 January 2009 at 20:11  

आगे बढ़कर भी अगर
ना मिले मंजिलों के रास्ते

मत समझ लेना भूल कर
ये आखिरी हैं रास्ते
ऐ राही तुझे आगे बढ़ना है ......

बहुत सुन्‍दर पंक्तियॉं हैं ।
शेखर

विनय 26 January 2009 at 20:16  

गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनाएँ

---आपका हार्दिक स्वागत है
गुलाबी कोंपलें

योगेन्द्र मौदगिल 26 January 2009 at 21:12  

वाहवा..........बधाई आपको..

मथुरा कलौनी 26 January 2009 at 21:16  

सरल शब्‍दों में सुंदर अभिव्‍यक्ति है। बधाई।

shyam kori 'uday' 27 January 2009 at 07:35  

... प्रसंशनीय रचना है।

chandrashekhar hada 27 January 2009 at 14:50  

ब्लॉग पर पधारे और दिल से टिप्पणी की . बहुत-बहुत धन्यवाद् अनिलजी .

vinay 27 January 2009 at 17:06  

theek kha sangharsh hi jeevean hai

गिरीश बिल्लोरे "मुकुल" 28 January 2009 at 09:15  

अति सुंदर सराहनीय मनभावन मोहक जारी रहे

विजययात्रा 28 January 2009 at 14:14  

कलम की अभिव्यक्ति जो दिल से निकली है वाकई लाजवाब है.... बस ऐसे ही आगे बढते रहना.....

Jimmy 28 January 2009 at 15:51  

nice post good going ji

shayari,jokes,recipes,sms,lyrics and much more so visit

copy link's
www.discobhangra.com

http://shayaridilse-jimmy.blogspot.com/

Udan Tashtari 29 January 2009 at 06:48  

सुन्दर रचना. बधाई.

chopal 29 January 2009 at 18:33  

भावपूर्ण प्रस्तुति............

डुबेजी 30 January 2009 at 16:53  

dost brush\paint uthao aur aaj se hi painting banana shuru kar do , n i m waiting to see your painting on this blog. my best wishes to u.

Post a Comment

आपकी टिप्पणी यदि स्पैम/वायरस नहीं है तो जल्द ही प्रकाशित कर दी जाएगी.

Related Posts with Thumbnails

  © Blogger template Simple n' Sweet by Ourblogtemplates.com 2009

Back to TOP